Pm swamitva yojana 2021

Pm swamitva yojana 2021

स्वामित्व योजना
Pm swamitva yojana 2021

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना (Pm swamitva yojana 2021)-दोस्तों आज पंचायती राज दिवस के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आमजन को बहुत बड़ी सोगात दी है, पिछले वर्ष पंचायती राज दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आमजन को प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना(Pm swamitva yojana) सोगात दी थी और आज पंचायती राज दिवस के मोके पर प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना (Pm swamitva yojana) दूसरे चरण शुरुआत की है और आज हम आपको प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना (Pm swamitva yojana) के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है स्वामित्व योजना क्या है इसके लाभ पात्रता और ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन l

दोस्तों आज सुबह – सुबह आपके पास एक मैसेज जरूर आया होगा जिसमे सभी भारतीयों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लाइव ब्रोडकास्ट का लिंक दिया गया था और उसमे प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना (Pm swamitva yojana) के बारे में जानकारी दी गयी थी तो आमजन के लिये यह समझना मुश्किल हो गया की यह मैसेज क्या है और इस योजना का उन्हें क्या फायदा होने वाला है तो हम आपकी इस समस्या का समाधान लेकर आये है और प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना (Pm swamitva yojana) की सम्पूर्ण जानकारी हम आपको देने वाले है केसे आप इसमें अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है ,आपको क्या लाभ होगा और यह योजना क्या है तो क्रप्या इस जानकारी को ध्यानपूर्वक पढे क्युकी गाँवो में निवास करने वाले भारतीयों के लिये यह बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है

AADHAR LINK IN BANK ACCOUNT 
HOW TO LINK AADHAR CARD IN BANK ACCOUNT 
AADHAR LINK IN BANK ACCOUNT
HOW TO LINK AADHAR CARD IN BANK ACCOUNT ]
m aadhar download
m aadhar download kese kare
click

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजीटल इंडिया का सपना देखा है और वह समय समय पर  इसी सपनों को पूरा करने के लिए किसी ने कैसी ऑनलाइन योजना की शुरुआत करते रहते हैं। देश की उन्नति करना चाहते हैं इसी डिजिटल इंडिया को बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने ग्रामीण स्वामित्व योजना (Pm swamitva yojana) की शुरुआत 24/04/2020 को की थी ।

इस योजना के अंतर्गत उतर प्रदेश,हरियाणा,महाराष्ट्र,मध्यप्रदेश,उतराखंड और कर्नाटक राज्यों में लगभग 1 लाख गाँवो एवं पंजाब व राजस्थान के सीमावर्ती गाँवो में आज 24-04-2021 से पायलट प्रोजेक्ट के रूप में इस योजना को शुरू किया जायेगा जिसके अंतर्गत इन गाँवो का ड्रोन के माध्यम से सर्वे करवाकर सम्पति मालिकों को उनकी सम्पति के अधिकारों का रिकोर्ड प्रदान किया जायेगा हालाँकि यह योजना 24 अप्रेल 2020 से लागु हो चुकी है जो अभी तक पायलट प्रोजेक्ट के रूप में ही चल रही है और आज एक साल बाद इसके दूसरे चरण का प्रधानमंत्री द्वारा शुभारंभ किया जा रहा है जिसके लिये आमजन को आज सुबह-सुबह ही प्रधानमंत्रीजी के प्रोग्राम में जुड़ने के लिये ऑनलाइन लिंक भेजा गया है

(Pm swamitva yojana 2021)

स्वामित्व योजना संपत्ति कार्ड :-

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से भू मालिकों को स्वामित्व योजना के तहत सम्पति कार्ड वितरित करने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री जी ने कहा है कि इस योजना के अंतर्गत देश के लगभग 4.09 लाख प्रॉपटी धारको के मोबाइल फ़ोन पर एसएमएस के माध्यम से एक लिंक भेजा है l जिसके माध्यम से देश के प्रॉपटी धारक अपना प्रॉपटी कार्ड डाउनलोड कर सकते है। इसके बाद संबंधित राज्य सरकारें संपत्ति कार्ड का फिजिकल वितरण करेंगी । गांव के लोगों को इस योजना के माध्यम से अब बैंक से लोन मिलने में भी आसानी होगी। 

इस योजना के माध्यम से लोगों की संपत्ति का डिजिटल ब्यौरा रखा जा सकेगा। PM Swamitva Yojana के अंतर्गत राजस्व विभाग द्वारा गांव की जमीन की आबादी का रिकॉर्ड एकत्रित करना शुरू कर दिया गया है। इसी के साथ विवादित जमीनों के मामले के निपटारे के लिए डिजिटल अरेंजमेंट भी राजस्व विभाग द्वारा शुरू किया गया है।

Swamitva Yojana के अंतर्गत विभिन्न राज्यों में करीब 130 ड्रोन टीम तैनात की गई है। यह ड्रोन टीम भारतीय सर्वेक्षण विभाग के द्वारा तैनात की गई हैं। मार्च 2021 तक इस योजना के अंतर्गत 500 ड्रोन तैनात किए गए हैं। जिसके माध्यम से भारतीय ड्रोन निर्माण को भी बढ़ावा मिला है।

स्वामित्व योजना कंटीन्यूअस ऑपरेटिंग रेफरेंस स्टेशन

स्वामित्व योजना के कार्यान्वयन के लिए जमीन की मैपिंग और जायदाद के आंकड़ों की जानकारी एकत्रित करने के लिए पंजाब, राजस्थान, हरियाणा और मध्य प्रदेश में कंटीन्यूअस ऑपरेटिंग रेफरेंस स्टेशन स्थापित किए जाएंगे। इन स्टेशनों की संख्या 210 होगी। यह स्टेशन मार्च तक चालू कर दिए जाएंगे। सन 2022 तक पूरे देश में कंटीन्यूअस ऑपरेटिंग रेफरेंस स्टेशन का पूरा नेटवर्क होगा। स्वामित्व योजना के अंतर्गत 5.41 लाख गांव को शामिल किया गया है। जिसके लिए 566.23 करोड़ का प्रस्ताव भेजा गया है। साल 2021–22 के लिए इस योजना के अंतर्गत 16 राज्यों के शामिल किया जाएगा। जिसके लिए ₹200 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

(Pm swamitva yojana 2021)

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का उद्देश्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोनावायरस संकट के बीच में भी देश में फैली हजारों ग्राम पंचायतों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा संबोधित किया और इस योजना की शुरुआत भी की वैसे तो 24 अप्रैल का दिन पंचायती राज दिवस के रूप में मनाया जाता है लेकिन कोरोनावायरस के संकट को देखते हुए पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा ही किसानों को संबोधित किया PM Swamitva Yojana का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण किसानों की जमीनो की ऑनलाइन देखरेख मुहैया कराना जमीनों की मैपिंग और उनके सही मालिकों को उनका हक दिलाना जमीनी प्रक्रिया में पारदर्शिता लाना ग्रामीणों के हक में इस योजना के तहत काम किया जाएगा।

स्वामित्व योजना के अंतर्गत सर्वे प्रक्रिया

PM Swamitva Yojana के अंतर्गत ड्रोन के माध्यम से सर्वे किया जाता है। सर्वे करने के लिए कई चरण है। जीपीएस ड्रोन की मदद से एरिया सर्वे किया जाता है। इस सर्वे के माध्यम से गांव में बने हर घर की जियो टैगिंग की जाती है और प्रत्येक घर का क्षेत्रफल दर्ज किया जाता है। यह छेत्रफल दर्ज करने के बाद प्रत्येक घर को एक यूनिक आईडी प्रदान की जाती है। जो उस घर का पता भी होता है। इस प्रक्रिया के माध्यम से लाभार्थी का पूरा पता डिजिटल भी हो जाता है। अब इस योजना के माध्यम से जमीन जायदाद के झगड़े में कमी आएगी। पहले गांव के नागरिकों के पास लिखित दस्तावेज नहीं होते थे। पर अब सरकार द्वारा गांव के नागरिकों को लिखित दस्तावेज मुहैया कराए जाएंगे।

  • सर्वे की प्रक्रिया के दौरान ग्राम पंचायत के सदस्य, राजस्व विभाग के अधिकारी, गांव के जमीन मालिक तथा पुलिस की टीम मौजूद रहती है। जिससे कि लोगों की आपसी सहमति से उन्हें अपने दावे की जमीन प्रदान की जा सके। इसके पश्चात दवे वाली जमीन पर निशानदेही की जाती है।
  • जमीन मालिक चूना लगाकर अपने क्षेत्र पर घेरा बना लेता है। इसकी तस्वीर ड्रोन से खींची जाती है। ड्रोन के द्वारा यह प्रक्रिया गांव के चक्कर लगाकर पूरी की जाती है। इसके पश्चात कंप्यूटर की सहायता से जमीन का नक्शा तैयार किया जाता है।

(Pm swamitva yojana 2021)

स्वामित्व योजना आपत्ति दर्ज करने का समय

सरकार द्वारा जिस भी गांव का सर्वे कराया जाता है उस गांव के नागरिकों को पहले से सूचना दी जाती है। जिससे कि वह सभी लोग जो गांव से बाहर हैं वह सर्वे वाले दिन गांव में उपस्थित हो सके। सरकार द्वारा गांव का पूरा नक्शा तैयार किया जाता है। इसके पश्चात उन सभी नागरिकों को जिनके नाम पर जमीन है उनके नाम की जानकारी पूरे गांव को दी जाती है। वह सभी नागरिक जिन्हें अपनी आपत्ति दर्ज करानी होती है वह कम से कम 15 दिन तथा अधिक से अधिक 40 दिन के अंतर्गत अपनी आपत्ति दर्ज करवा सकते है। वह सभी गांव जहां पर कोई भी आपत्ति नहीं आती है वह राजस्व विभाग के अधिकारियों द्वारा जमीन के कागजात जमीन के मालिक को प्रदान कर दिए जाते हैं।

(Benifit of Pm swamitva yojana 2021)

पीएम स्वामित्व योजना का लाभ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान कहा कि करीब 5 साल पहले देश की 100 ग्राम पंचायतें ब्रॉडबैंड से जोड़ी गई थी लेकिन आज के दौर में 125000 से भी अधिक ग्राम पंचायत इंटरनेट का लाभ उठा रही हैं। इस योजना की मदद से सरकारी योजनाओं की जानकारी गांव तक आसानी से पहुँचती है और सहायता पहुंचने में तेजी आएगी अब गांव के लोग भी शहर के लोगों के तरह अपने मकानों पर होम लोन और खेतों पर भी लोन ले सकते हैं गांवों में जमीनों की मैपिंग ड्रोन के द्वारा की जाएगी देश के लगभग 6 राज्यों में इसकी शुरुआत हो चुकी है और सन 2024 तक इसको देश के हर गांव तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। 

  • प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत संबंध संपत्ति नामांकन के प्रोसेस को सरल बनाना है।
  • इस योजना के अंतर्गत ड्रोन के द्वारा गांव, खेत भूमि का मैपिंग किया जाएगा।
  • भूमि के सत्यापन प्रक्रिया मैं तेजी और भूमि भ्रष्टाचार को रोकने में सहायता मिलेगी।
  • ग्राम पंचायत के अंतर्गत आने वाले किसानों को लोन लेने की सुविधा का भी प्रावधान रखा गया है।

(Pm swamitva yojana 2021)

स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड कैसे करे ?

देश के जो इच्छुक प्रॉपटी धारक सरकार द्वारा प्रदान किये जाने वाले सम्पति कार्ड को डाउनलोड करना चाहते है तो आप नीचे दिए गए तरीके से प्रॉपटी कार्ड डाउनलोड कर सकते है।

  • PM Swamitva Yojana के अंतर्गत पीएम मोदी के बटन दबाते ही देशभर के करीब 4.5 लाख प्रोपटी मालिकों को एक SMS जाएगा। इसके बाद आपको इस एसएमएस को ओपन करना होगा।
  • एसएमएस को ओपन करने के बाद आपको इसमें एक लिंक दिखाई देगा। फिर आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद आप अपना प्रॉपटी कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे।
  • अपना प्रोपर्टी कार्ड केवल वही व्यक्ति डाउनलोड कर सकेंगे जिनके गाँवो का सर्वे हो चुका है अगर आपके गांव को अभी इस योजना में शामिल नही किया गया है तो आप अभी अपना प्रोपर्टी कार्ड डाउनलोड नही कर सकोगे लेकिन जल्द ही यह सम्पूर्ण भारत में लागु हो जायेगी तब आप भी इस योजना का फायदा के सकेंगे

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 

प्रधानमंत्री स्वामित्व (Pm swamitva yojana 2021)-में आवेदन के लिए आपको निम्न लिखित स्टेप्स को फॉलो करना पड़ेंगे।

सके लिए आवेदक को सबसे पहले पीएम स्वामित्व योजना की ऑफिसियल वेबसाईट पर जाना होगा जहाँ आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लीक करके भी जा सकते है हालाँकि अगर अभी आपके गांव को इस योजना की सर्वे लिस्ट में शामिल नही किया गया तो आप अपना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नही कर पाएंगे

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन आवेदन के लिये यहाँ क्लीक करे

  • न्यू रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इसमें आपसे मुतालिक जो भी जानकारी मांगी गई है उसे ध्यानपूर्वक भरना होगा।
  • पूरा फॉर्म ध्यानपूर्वक भरने के बाद सबमिट का बटन दबाना होगा।
  • अब आपका फॉर्म सफलतापूर्वक भर गया है आपके रजिस्ट्रेशन से संबंधित कोई भी जानकारी आपके मोबाइल नंबर पर s.m.s. द्वारा या ईमेल आईडी द्वारा मिल जाएगी।

इसी तरह के जन-कल्याणकारी,सरकारी कागजो व योजनओं के अपडेट पाने के लिये नीचे दिए लिंक पर क्लीक करके हमारे व्हाट्सप समूह में शामिल हो सकते है जहाँ आपको सरकारी कागजो व योजनओं के रोज नये-नये अपडेट मिलते रहेंगे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock